नीतीश कुमार ने भी लालू यादव का किया था नामकरण

6
नीतीश कुमार ने भी लालू यादव का किया था नामकरण

नीतीश कुमार ने भी लालू यादव का किया था नामकरण


नीलकमल, पटना: बिहार बीजेपी के अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने कहा कि 2010 के विधानसभा चुनावों में नीतीश कुमार ने धर्मवीर भारती की प्रसिद्ध कविता ‘मुनादी’ के जरिये लालू प्रसाद को घेरने का काम किया था। अब बिहार सरकार के पूर्व पंचायती राज मंत्री रह चुके सम्राट चौधरी ने उसी ‘मुनादी’ के जरिए बिजली बिल में बढ़ोतरी के मुद्दे पर नीतीश सरकार को जम कर खरी खोटी सुनाई है। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने कहा कि नीतीश कुमार ने रेलवे का कायापलट करने का ढिंढोरा पीट रहे लालू प्रसाद यादव का नामकरण ‘कायापलट जी’ कर दिया था। इसके बाद 2017 में लालू प्रसाद यादव ने नीतीश कुमार का नामकरण पलटू राम कर दिया था। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने इसी मुनादी कविता में फेर बदल कर नीतीश कुमार के खिलाफ इस्तेमाल किया है। सम्राट चौधरी ने ‘सुशासन बाबू और जनताराज’ जैसे शब्दों का कटाक्षों की तरह प्रयोग कर नीतीश कुमार को निशाने पर लिया है।

बिहार में बिजली के दर बढ़ाए जाने का किया विरोध

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने कहा कि बिहार में बिजली बिल में बढ़ोतरी से आम जनता को कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कविता के जरिए नीतीश कुमार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा ‘ख़ल्क ख़ुदा का, मुलुक बाश्शा का, हुकुम शहर कोतवाल का…हर खासो-आम को आगह किया जाता है कि अपनी गठरियों में छिपाई हुई। गाढ़ी मेहनत की कमाई निकाल कर बाहर रख दें… घोंट दे गला अपने अरमानों का और… दफन कर दें अपने बच्चों के भविष्य को… क्योंकि ‘सुशासन बाबू’ के कारिंदे निकल पड़े हैं …‘बिजली बिल’ के नाम पर छीनने आपके सुनहरे भविष्य के लिए बचाए जा रहे पैसों को।

मंत्रियों की सैलरी और मंत्रियों के बढ़े वेतन पर भी कसा तंज

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने अपनी कविता में मंत्रियों की बढ़ी तनख्वाह और नीतीश सरकार द्वारा खरीदे जा रहे जेट का भी जिक्र किया है। उन्होंने कहा कि बात मंत्रियों की बढ़ी तनख्वाह का है..बात ‘चाचा-भतीजे’ के ऐशोआराम की है… बात उनके खरीदे जा रहे उड़न खटोले की है.. ऐसे में ‘जनताराज’ में सरकार को आपकी जेब कतरने का हक क्यों नहीं?

कुशासन का लालटेन थामें दुशासन

कविता में आगे नीतीश सरकार के सुशासन पर तंज कसते हुए सम्राट चौधरी ने कहा कि ‘कुशासन’ की लालटेन थामे ‘दुशासनों’ से भरी… ‘सुशासन’ की गाड़ी आती ही होगी… पीएम बनने की हसरतों में आपको… जबरन दांत दिखाते देना ही होगा अपना योगदान …आखिर बात ‘बाश्शा’ के रसूख की है… जनताराज में उम्मीदों का जनाजा निकलते हुए देखिये… ख़ामोशी से! मुंह पर ऊंगली रखे! चुपचाप!। नीतीश सरकार पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के इस कविता ‘वार’ से यह स्पष्ट है कि बिजली बिल बढ़ोतरी के मुद्दे पर पार्टी चुप नहीं बैठने वाली।

(अगर आप राजधानी पटना जिले से जुड़ी ताजा और गुणवत्तापूर्ण खबरें अपने वाट्सऐप पर पढ़ना चाहते हैं तो कृपया यहां क्लिक करें। )

बिहार की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News