‘दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी चुनाव से भाग रही है’ दिल्ली MCD इलेक्शन टालने पर AAP नेता संजय सिंह ने कसा BJP पर तंज

143

‘दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी चुनाव से भाग रही है’ दिल्ली MCD इलेक्शन टालने पर AAP नेता संजय सिंह ने कसा BJP पर तंज

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (AAP) के संजय सिंह (Sanjay Singh) ने गुरुवार को राज्यसभा में दिल्ली में नगर निगम चुनाव टालने (Delhi MCD Election Postponed) का मुद्दा उठाया और आरोप लगाया कि दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी होने का दावा करने वाली भाजपा इन चुनावों से भाग रही है। उच्च सदन में रेल मंत्रालय के कामकाज पर चर्चा के दौरान सिंह ने कहा कि आम आदमी पार्टी से तीन बार करारी शिकस्त खाने के बाद भाजपा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का सामना करने से डर रही है।

उन्होंने कहा, ‘एमसीडी का चुनाव हो रहा है और भाग रहे हैं आप लोग (भाजपा)…हिम्मत है तो चुनाव लड़ो ना।।’ सिंह ने कहा कि आम आदमी पार्टी के खिलाफ भाजपा की तीन बार दिल्ली में जमानत जब्त हो गई। उन्होंने कहा, ‘एक बार तीन सीट लेकर स्कूटर पार्टी बन गए। दूसरी बार इनोवा पार्टी बन गए, आठ सीटें आई। तीन बार से हार रहे हैं। और अब एमसीडी के चुनाव से भाग रहे हैं… (आप आदमी पार्टी प्रमुख अरविन्द) केजरीवाल से सामना नहीं कर सकते। चुनाव से इतना डरते हैं।’

‘द कश्मीर फाइल्स’ जैसी झूठी फिल्म के पोस्टर लगा रही बीजेपी, यूट्यूब पर डाल दो टैक्स फ्री हो जाएगी: केजरीवाल
उन्होंने कहा कि एमसीडी चुनावों को टालकर भाजपा देश के प्रधानमंत्री की छवि खराब कर रही है। उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री कहते हैं कि हमारा 56 इंच का सीना है। आप कहते हैं कि हम दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी हैं। दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी एमसीडी के चुनाव से भाग रही है। डर रही है केजरीवाल से।’ दरअसल दिल्ली की तीनों नगर निगमों– उत्तर, पूर्व और दक्षिण–को एकीकृत करने संबंधी विधेयक को केंद्रीय मंत्रिमंडल की मंजूरी मिलने के से आम आदमी पार्टी भाजपा पर नगर निगम चुनाव टालने का आरोप लगा रही है।

navbharat times -Pushkar Singh Dhami: उत्तराखंड में जल्‍द लागू होगी समान नागरिक संहिता, पहली कैबिनेट मीटिंग के बाद धामी का ऐलान
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को भाजपा को चुनौती देते हुए कहा कि अगर भगवा पार्टी इन चुनावों को समय पर कराकर जीत हासिल करती है तो आम आदमी पार्टी राजनीति छोड़ देगी। इस दौरान, सिंह ने रेलवे में रिक्तियों का मामला भी उठाया और कहा कि 2019 में रेलवे भर्ती बोर्ड ने परीक्षाओं के आयोजन की घोषणा की थी। इसके बाद छात्रों ने प्रारंभिक, मुख्य और चिकित्सा परीक्षा भी पास कर ली लेकिन आज तक उन्हें नौकरी नहीं मिली।

navbharat times -किम जोंग उन का हथियार या अजूबा? महाविनाशक मिसाइल ने 6000 किमी तक भरी उड़ान, यूक्रेन में उलझे अमेरिका को भी उड़ाने की ताकत

उन्होंने कहा, ‘बेरोजगारों के प्रति सरकार का यह रवैया बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। और जब छात्र इसके खिलाफ सड़कों पर उतरते हैं तो यह सरकार उनके साथ दुश्मनों सा रवैया अपनाती है।’ उन्होंने कहा कि सरकार ने रेल में सुरक्षा के रखरखाव से लेकर सिग्नल और स्टेशनों तक के रखरखाव में ठेका प्रथा लागू कर रोजगार को समाप्त कर दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार निजीकरण और आरक्षण के लाभार्थियों का हक मारने के लिए रेल में नौकरियां नहीं निकाल रही है।

navbharat times -‘मुकेश सहनी ने अपने दुर्भाग्य को खुद न्यौता दिया, अब आगे BJP और वो जानें’… VIP चीफ की नीतीश से लगी आखिरी उम्मीद भी ध्वस्त
उन्होंने कहा कि रेल की आमदनी में 7.8 प्रतिशत की कमी आई है और इसके बावजूद यह सरकार राजनीतिक कारणों से रेल के नुकसान को तैयार रहती है। उन्होंने आरोप लगाया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के लिए श्रद्धालुओं को छोड़ने स्टेशन जा रहे थे लेकिन उन्हें इसके लिए अनुमति नहीं दी गयी। सिंह ने कहा कि उन्होंने रेल मंत्री को फोन किया और मैसेज किए लेकिन उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया।

उन्होंने कहा कि रेल मंत्री का यह व्यवहार बहुत दुखद है। उन्होंने कहा, ‘हमारे निर्वाचित मुख्यमंत्री को आपका रेलवे विभाग अपमानित करेगा और हम आपसे बात करना चाहेंगे तो फोन पर नहीं आएंगे, मैसेज का कोई जवाब नहीं देंगे। यह व्यवहार ठीक नहीं है। बहुत ही दुखद है यह व्यवहार।’

दिल्ली की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News

Source link