दिल्‍ली में महिला को गिराकर बैग लूटने वाला गिरफ्तार, CCTV खंगालने में सूज गईं पुलिसवालों की आंखें

140

दिल्‍ली में महिला को गिराकर बैग लूटने वाला गिरफ्तार, CCTV खंगालने में सूज गईं पुलिसवालों की आंखें

नई दिल्ली : लूटपाट के दौरान ई-रिक्शा सवार महिला के सड़क पर जख्मी होने के मामले में शाहदरा जिला पुलिस ने दो लुटेरों को गिरफ्तार कर लिया है। इनकी पहचान मधु विहार के पटपड़गंज निवासी निवासी मनीष उर्फ ऋषि उर्फ बबलू (41) और मोहित गुप्ता उर्फ किक्की (34) के रूप में हुई है। इनसे महिला का लूटा पर्स, तमंचा, दो कारतूस, वारदात के समय पहने कपड़े, जूते और बाइक रिकवर कर लिए गए हैं। मनीष 2008 से वारदात को अंजाम दे रहा है, जिस पर पहले से 106 केस दर्ज हैं। मोहित पर दो केस दर्ज हैं, जो रेस्टोरेंट बिजनेस में पैसा गंवाने और दोस्त को उधार दिए पैसे डूबने से कंगाली में था।

डीसीपी (शाहदरा) आर. सत्यसुंदरम ने बताया कि 7 फरवरी को कृष्णा नगर निवासी रितु (40) फैमिली के साथ शादी समारोह में एक बैक्वेट हॉल जा रही थी। क्रॉस रीवर मॉल के पास बाइक सवार बदमाश दोपहर करीब 1:15 बजे पर्स छीनने लगे। पीड़िता ने विरोध किया तो आरोपियों ने जबरन पर्स खींच लिया। इससे पीड़िता सिर के बल सड़क पर गिर गई। पीड़िता अभी भी वेंटिलेटर सपोर्ट पर है, जो अभी मैक्स अस्पताल में भर्ती हैं। एसीपी महेंद्र सिंह, इंस्पेक्टर विकास और राकेश रावत की देखरेख में एसआई योगेश, विनीत, प्रवेश, प्रशांत, एएसआई वेदपाल, ब्रह्मपाल, सुखबीर समेत 27 पुलिसकर्मियों की छह टीमें बनाई गईं।

पुलिस जांच में पता चला ‌कि वारदात के समय आरोपी लाल और काले रंग की बाइक पर थे। सीसीटीवी फुटेज खंगालने पर खुलासा हुआ कि आरोपी दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे की तरफ भागे हैं। इसके अलावा पुलिस को दोनों बाइक सवार बदमाश दिल्ली-एनसीआर के छह मॉल के आसपास भी सक्रिय दिखे। इससे पता चला कि दोनों बदमाश इन्हीं जगहों पर वारदात करते हैं। लिहाजा पुलिस की टीमों को इन सभी मॉल और मेरठ एक्सप्रेस-वे तैनात कर दिया गया। पुलिस की टीम लगातार बदमाशों की निगरानी कर रही थीं। एक टीम ने एनएच-24 पर शुक्रवार को मदर डेरी फ्लाईओवर पास बदमाशों की पहचान कर ली।

खूब चला चूहे-बिल्ली का खेल
दोनों बदमाश उसी बाइक पर सवार होकर अक्षरधाम मंदिर से सराय काले खां की ओर जा रहे थे। पुलिस की एक टीम ने पीछा किया। एक्सप्रेस-वे टी-पॉइंट पर तैनात दूसरी टीम को मेसेज भेजा। ट्रैफिक पुलिस की मदद से बैरीकेड लगा कर रास्ता बंद कर दिया। पुलिस को देखते ही आरोपियों ने बाइक वापस मोड़ दी। रॉन्ग साइड लेकर यमुना पुल पर दौड़ा दी। तीसरी टीम को अलर्ट कर दिया गया। जैन शिकंजी के पास बैरीकेडिंग कर दी गई। यहां से आरोपियों ने डिवाइडर के राइट साइड की ओर से भागने की कोशिश की। इस बीच चौथी टीम ने जिप्सी से आरोपियों की बाइक को टक्कर मार दी, जिससे दोनों नीचे गिर गए। इसके बाद उनको काबू किया गया।

मंडोली जेल में 22 साल के कैदी से दुष्‍कर्म, अंडरट्रायल कैदियों ने चेहरे पर ब्‍लेड रखकर किया अननेचरल सेक्‍स
500 फुटेज खंगालने में सूजी आंखें
नीचे गिरने से दोनों बदमाशों को चोटें लगी हैं, जिसमें से एक की टांग पर कच्चा प्लास्टर भी लगा है। पुलिस अफसरों ने बताया कि भीड़भाड़ होने से पुलिस टीमों ने बदमाशों को घेरकर पकड़ने की रणनीति बनाई। बदमाशों के गिरते ही राहगीरों ने विडियो बनाना शुरू कर दिया था। पुलिस अफसरों ने बताया कि 70 किलोमीटर के दायरे में लगे 500 सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालने के बाद बदमाशों का क्लू मिला। फुटेज पर लगातार काम कर रहे पुलिसकर्मियों के आंखें तक सूज गईं, जिनको डॉक्टरों को दिखाना पड़ा। आरोपी 220 सीसी की पल्सर बाइक पर का इस्तेमाल करते थे, क्योंकि इसकी स्पीड काफी तेज होती है।

लग सकता है मकोका
जॉइंट सीपी (ईस्टर्न रेंज) छाया शर्मा ने कहा कि मनीष उर्फ ऋषि उर्फ बबलू (41) आदतन अपराधी है। स्पेशल सेल की टीम पर कातिलाना हमला करने के केस में 50 हजार रुपये का इनाम रह चुका था। पटपड़गंज के मधु विहार का फ्लैट और ईको वैन दोनों झपटमारी और लूट की कमाई से बनाए हैं। आरोपी अपने साथ अलग-अलग साथी लेकर क्राइम करता रहा है। लंबे समय से जुर्म की दुनिया में है। इसकी पूरी कुंडली खंगाली जाएगी। इसका सिंडिकेट मिल गया और जुर्म की कमाई से अकूत प्रॉपर्टी बनाने के सबूत मिले तो मकोका (महाराष्ट्र कंट्रोल ऑफ ऑर्गनाइज्ड क्राइम एक्ट 1999) लगाया जाएगा।

दिल्ली की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News

Source link