टीम इंडिया ने कराई फजीहत, 300 बनाकर भी 7 विकेट से हारी, लैथम-केन ने पलटा पासा

0
171


टीम इंडिया ने कराई फजीहत, 300 बनाकर भी 7 विकेट से हारी, लैथम-केन ने पलटा पासा

ऑकलैंड: न्यूजीलैंड ने भारतीय टीम को वनडे सीरीज के पहले मुकाबले में 7 विकेट से हरा दिया। टीम इंडिया ने 307 रनों का लक्ष्य रखा था। शुरुआत में विकेट गिरे और दबाव बना तो लगा भारत यह मैच जीत लेगा, लेकिन कप्तान केन विलियमसन और टॉम लैथम ने धीमी शुरुआत के बाद गजब की बैटिंग की और पासा पलट दिया। टॉम लैथम ने शानदार सेंचुरी जड़ी तो केन विलियमसन हाफ सेंचुरी बनाकर नाबाद रहे। इन दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए 221 रनों की मैच विनिंग साझेदारी हुई। इस तरह कीवी टीम ने सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली है।

न्यूजीलैंड की खराब रही शुरुआत, शार्दुल ने दिया पहला झटका
307 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। ओपनर फिन एलेन को शार्दुल ठाकुर ने ऋषभ पंत के हाथों कैच आउट कराया। वह 25 गेंदों ममें 2 चौके और एक छक्का लगाकर चलते बने। इसके बाद न्यूजीलैंड काफी दबाव में आ गया और रन गति को बढ़ाने के चक्कर में डेवॉन कान्वे उमरान मलिक के शिकार बने। यह उमरान के करियर का पहला विकेट रहा। उन्होंने 42 गेंदों में 3 चौके के दम पर 24 रन की पारी खेली। वह एक-एक रन बनाने के लिए जूझते दिखे थे।

विलियमसन और लैथम की तूफानी बैटिंग
न्यूजीलैंड को तीसरा झटका डैरिल मिशेल के रूप में लगा। वह सिर्फ 11 रन बनाकर चलते बने। लेकिन इसके बाद कप्तान केन विलियमसन और विकेटकीपर टॉम लैथम ने वह किया जिसकी किसी को उम्मीद नहीं थी। इन दोनों ने मिलकर टीम को पहले 100, 150, 200 और 250 रनों के पार ले गए। इस दौरान दोनों को ही किसी तरह की दिक्कत नहीं हुई। विलियमसन आराम से बैटिंग करते दिखे तो लैथम ने आक्रामक रुख अख्तियार किया।

शार्दुल के एक ओवर में ठोके 4 चौके और एक छक्का, 76 गेंदों में शतक
लैथम की आक्रामक बैटिंग का अंदाज इस बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने कीफायती बॉलिंग करने वाले शार्दुल ठाकुर के एक ओवर में 4 चौके और एक छक्का उड़ाते हुए 25 रन ठोके। इसमें दो वाइड भी शामिल थे। इसी 40वें ओवर की आखिरी गेंद पर सिंगल लेकर उन्होंने 76 गेंदें में शतक पूरा किया। यहां से मैच का रुख ही पलट गया। केन विलियमसन 98 गेंदों में 7 चौके और एक छक्का की मदद से 94 रन बनाकर नाबाद रहे, जबकि टॉम लैथम ने 104 गेंदों में 19 चौके और 5 छक्के उड़ाते हुए 145 रन बनाकर नाबाद रहे। दूसरी ओर, उमरान मलिक को दो मिले, जबकि शार्दुल ठाकुर ने एक विकेट झटका। अर्शदीप 68 रन और चहल 67 रन देकर सबसे महंगे गेंदबाज रहे।

टीम इंडिया की पारी का रोमांच, 3 प्लेयर्स की फिफ्टी
इससे पहले श्रेयस अय्यर (80), कप्तान शिखर धवन (72) और शुभमन गिल (50) की अर्धशतकीय पारियों के दम पर भारत ने 7 विकेट पर 306 रन बनाए। वॉशिंगटन सुंदर ने आखिरी ओवरों में 16 गेंद में 37 रन की नाबाद आक्रामक पारी खेल टीम के स्कोर को 300 के पार पहुंचाया। उन्होंने इस दौरान तीन चौके और इतने ही छक्के जड़े। अय्यर ने 76 गेंद की पारी में चार चौके और चार छक्के लगाए तो वही धवन ने 77 गेंद में 13 चौके जड़े। उन्होंने गिल के साथ पहले विकेट के लिए 124 रन की साझेदारी की। गिल ने 65 गेंद की पारी में एक चौका और तीन छक्का लगाया। न्यूजीलैंड के लिए लॉकी फर्ग्यूसन (10 ओवर में 59 रन) और टिम साउदी (10 ओवर में 73 रन) ने तीन-तीन विकेट लिए।

धवन और गिल ने दी अच्छी शुरुआत
न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया और टीम के गेंदबाजों ने भारत को तेज शुरुआत करने से रोके रखा। धवन और गिल ने शुरुआती ओवरों में संभल कर बल्लेबाजी की जिससे 10 ओवर के बाद टीम का स्कोर 40 रन था। इस बीच फर्ग्यूसन ने मैच हेनरी की गेंद पर गिल का कैच टपका दिया। धवन और गिल ने इसके बार रन गति तेज किया और नियमित अंतराल पर गेंद को सीमा रेखा के पार भेजा। धवन ने इस दौरान 15वें ओवर में मैट हेनरी के खिलाफ लगातार दो चौके जड़े। उन्होंने इसके बाद एडम मिल्ने के खिलाफ दो चौके लगाए जसमें शानदार अपरकट से टीम ने 21वें ओवर में रनों का शतक का पूरा किया।

दोनों ओपनरों ने लगाई फिफ्टी
धवन ने इसके बाद साउदी के खिलाफ दो चौके जड़े तो वही गिल ने मिशेल सेंटनर की गेंद को दर्शकों के पास भेजकर अपना अर्धशतक पूरा किया। वह हालांकि अपनी पारी को ज्यादा आगे नहीं बढ़ा सके और 23वें ओवर में फर्ग्यूसन की गेंद पर डेवोन कॉन्वे को कैच थमा बैठे। अगले ओवर में साउदी ने धवन को चलता कर उसी स्कोर को टीम को दोहरा झटका दिया। सलामी बल्लेबाजों की अच्छी शुरुआत ने मध्यक्रम के लिए मंच बना दिया था। क्रीज पर श्रेयस अय्यर और ऋषभ पंत थे। पंत ने साउदी की गेंद पर चौके से खाता खोला तो वही अय्यर ने फर्ग्यूसन के खिलाफ अपरकट लगाया।

श्रेयस अय्यर की फिफ्टी, नहीं चला सूर्या का बल्ला
अय्यर को मिल्ने की गेंद पर विकेटकीपर टॉम लैथम ने अय्यर को जीवनदान दिया तो वहीं पंत 33 वें ओवर में चौका लगाने के बाद फर्ग्यूसन की गेंद को विकेट पर खेल बैठे। शानदार लय में चल रहे सूर्यकुमार यादव का बल्ला इस बार नहीं चला। कवर ड्राइव पर चौका लगाकर खाता खोलने वाला यह खिलाड़ी फर्ग्यूसन की गेंद पर स्लिप में खड़े एलेन को कैच देकर पवेलियन लौट गया। इस झटके से 33 ओवर के बाद भारत का स्कोर चार विकेट पर 160 रन था।

अय्यर को यहां संजू सैमसन (36) का अच्छा साथ मिला और दोनें ने पांचवें विकेट के लिए 94 रन की साझेदारी की। सैमसन एक बार फिर अर्धशतक से चूक गए लेकिन उन्होंने 38 गेंद की पारी में कई अच्छे शॉट लगाए। अय्यर इस दौरान न्यूजीलैंड में 50 रन से अधिक की लगातार चार पारियां खेलने वाले केवल दूसरे बल्लेबाज बने। इससे पहले सिर्फ रमीज राजा ने न्यूजीलैंड में ऐसा किया है।
NZ vs IND: टीम इंडिया को मिला नया फिनिशर, सूर्यकुमार यादव स्टाइल में शॉट, IPL का धाकड़ ऑलराउंडरnavbharat times -Ind vs Nz: वनडे में पनौती बल्लेबाज हैं सूर्यकुमार यादव, T20 के आग का ताप हो जाता है ठंडा!navbharat times -NZ vs IND: खत्म हुआ इंतजार, आ गया सबसे खूंखार गेंदबाज, उमरान मलिक का वनडे डेब्यू



Source link