टंट्या मामा के बलिदान दिवस… वनवासी समाज का समागम | Tantya Mama’s Sacrifice Day… Meeting of Vanvasi Samaj | Patrika News

0
70

टंट्या मामा के बलिदान दिवस… वनवासी समाज का समागम | Tantya Mama’s Sacrifice Day… Meeting of Vanvasi Samaj | Patrika News

आजादी की लड़ाई में अंग्रेजों की नींद उड़ाने वाले टंट्या मामा को अंग्रेजों ने फांसी की सजा सुनाई थी। आज ही के दिन मामा ने देश के लिए बलिदान किया था। उनकी याद में सरकार ने आज इंदौर में भव्य आयोजन रखा है। कार्यक्रम को लेकर नेहरू स्टेडियम को दुल्हन की तरह सजाया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान सहित आजादी की लड़ाई में खुद को स्वाहा करने वाले स्वतंत्रता संग्राम सेनानी की तस्वीर लगाई गई। वहीं, पूरे मैदान को वनवासी कलाकृतियों से सजाया गया। वहीं, भाजपा की कुछ महिला नेत्रियों ने मंच के सामने रंगोली बनाई है।

आयोजन को लेकर संभागीय स्तर से बसों के आने-जाने का सिलसिला सुबह शुरू हो गया था। मार्गों पर प्रतिबंध लगाए जाने की वजह से सारे वाहन बायपास से बिचौली होते हुए नेहरू स्टेडियम पहुंच रहे थे। कार्यक्रम में समय होने की वजह से कई वाहन चालकों ने रास्ते में गाडिय़ां भी रोक दीं। इधर, शहर से भीड़ को लेकर कल रात को स्कूलों की बसों का अधिग्रहण किया गया जो आज सुबह निर्धारित स्थान पर पहुंच गई थीं।
आदिवासी वार्ड व मोहल्लों में अधिक संख्या में बसों को भेजा गया। प्रत्येक वार्ड में दो से तीन बसों को भरने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी जो दोपहर 12 बजे स्टेडियम पहुंचना शुरू होगी। इधर, कार्यक्रम विधिवत शुरू हो उससे पहले सांस्कृतिक चल रहा था। नेहरू स्टेडियम में अलग ही बैठक व्यवस्था की गई है जिसमें 22 सेक्टर बनाए गए। प्रत्येक सेक्टर की जिम्मेदारी एक-एक अफसर को सौंपी गई है। कार्यक्रम में चयनित हितग्राहियों को लाभान्वित किया जाएगा।

ये रहेंगे राज्यपाल-सीएम के साथ
आयोजन में मंच पर राज्यपाल मंगू भाई, मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के साथ पहली पंक्ति में बाएं तरफ केंद्रीय मंत्री फग्गनसिंह कुलस्ते, प्रेमसिंह पटेल, विजय शाह, उषा ठाकुर, गजेंद्र पटेल, कविता पाटीदार, सुमेरसिंह सोलंकी, रंजना बघेल, पुष्यमित्र भार्गव, जयपालसिंह चावड़ा और सावन सोनकर होंगे। वहीं दाई तरफ प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा, मीनासिंह, तुलसीराम सिलावट, राज्यवर्धनसिंह दत्तीगांव, छतरसिंह दरबार, निर्मला बारेला, निर्मला भूरिया, अंतरसिंह आर्य, शंकर लालवानी, महेंद्रसिंह सोलंकी और ज्ञानेश्वर पाटील होंगे। दूसरी पक्ति में डॉ. निशांत खरे, नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे, जिला अध्यक्ष राजेश सोनकर सहित पूर्व सांसद व विधायक होंगे। आखिरी पंक्ति में कलेक्टर व इंदौर के नेताओं की जगह दी गई है।

गातास्थल पर होगा पूजन
मुख्यमंत्री चौहान विशेष विमान से इंदौर पहुंचेंगे। इंदौर आने के बाद वे हेलीकॉफ्टर से पातालपानी पहुंचेंगे जहां पर वे टंट्या मामा के गाता स्थल पर पहुंचकर पूजा-अर्चना करेंगे। यहां से वे एक बजे पीटीएस पहुंचकर भंवरकुआं जाएंगे। जहां पर वे टंट्या मामा की प्रतिमा का अनावरण करेंगे। वहां से वे नेहरू स्टेडियम पहुंचेंगे। शाम को वे लौट जाएंगे।

थाने भी करो टंट्या मामा के नाम
मध्य प्रदेश सरकार ने भंवरकुआं चौराहे का नाम बदल कर क्रांति सूर्य टंट्या भील मामा रख दिया। आज चौराहे पर प्रतिमा का अनावरण भी हो जाएगा। राज्यसभा सदस्य सुमेरसिंह सोलंकी के नेतृत्व में अखिल भारतीय बलाई महासंघ के अध्यक्ष मनोज परमार की टीम ने कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी से मुलाकात कर भंवरकुआं थाने का नाम भी टंट्या मामा भील के नाम पर रखे जाने को लेकर ज्ञापन दिया। कहना है कि जब चौराहे का नाम टंट्या मामा के नाम पर हो गया है तो थाना भी उसी नाम पर होना चाहिए जिसका नाम भी बदला जाना चाहिए।



उमध्यप्रदेश की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Madhya Pradesh News