जनपद अध्यक्ष चुनाव: गहमा-गहमी के बीच पहले चरण का चुनाव संपन्न, प्रदेश में 12 जनपदों में अध्यक्ष निर्विरोध बने, दतिया में सदस्य की मौत | Harda-Barwani-Sagar uproar, MLA’s wife became president in Niwari | Patrika News

0
112

जनपद अध्यक्ष चुनाव: गहमा-गहमी के बीच पहले चरण का चुनाव संपन्न, प्रदेश में 12 जनपदों में अध्यक्ष निर्विरोध बने, दतिया में सदस्य की मौत | Harda-Barwani-Sagar uproar, MLA’s wife became president in Niwari | Patrika News

बड़वानी के सेंधवा में कांग्रेस और भाजपा समर्थकों के बीच विवाद हुआ। पुलिस को यहां बल प्रयोग करना पड़ा। सागर के रहली में हंगामे के बाद पुलिस ने मोर्चा संभाला। हरदा में बवाल की स्थिति बनी। शाजापुर में भाजपा-कांग्रेस को 12-12 वोट मिले। गोटी सिस्टम से कांग्रेस समर्थित शरद शिवहरे ने जीत दर्ज की।

प्रदेश में करीब 12 जनपदों में अध्यक्ष निर्विरोध जीते : सीएम शिवराज सिंह ने विजेताओं को बधाई दी है। इनमें वीरसिंह रघुवंशी विदिशा, सविता पृथ्वी सिंह सागर, रश्मि सुरेश रहली (सागर), ममता सिंह मानपुर (उमरिया), बुंदेल सिंह मालथौन (सागर), राजेश रावत सोहावल (सतना), अंजू भागवेंद्र सिंह उचेहरा (सतना), विजय पटेल गैरतगंज (रायसेन), गंगोत्री मेहरा उदयपुर (रायसेन), रुकमणी बाई सीतामऊ (मंदसौर), प्रेमबाई कुशवाहा राजनगर (छतरपुर), प्रतिज्ञा परिहार करेली (नरसिंहपुर) शामिल हैं।

हरदा: कांग्रेस नेताओं की पुलिस से बहस, हंगामा
हरदा में दोपहर 1.30 बजे अध्यक्ष पद का परिणाम एसडीएम श्रुति अग्रवाल को घोषित करना था, लेकिन 4 बजे तक विजेता के नाम की घोषणा नहीं हो सकी। इससे पहले प्रॉक्सी वोटर्स को लेकर कांग्रेस ने भाजपा की तरफ से वोटिंग रूम में जाने पर विरोध जताया। कांग्रेसी भीतर घुसने व वोटिंग रूम में जाने वालों को रोकने की कोशिश करने लगे। तब पुलिस व कांग्रेस नेताओं के बीच बहस व धक्का-मुक्की हुई।

मुरैना: अंबाह में 24 साल की मधुरिमा बनीं अध्यक्ष
वहीं दूसरी ओर मुरैना के जनपद पंचायत अंबाह के अध्यक्ष पद पर वार्ड 22 धनसुला से 24 साल की मधुरिमा अध्यक्ष चुनीं गईं। दावा है कि वे प्रदेश में सबसे कम उम्र की महिला जनपद पंचायत अध्यक्ष हैं। खास यह रहा कि अध्यक्ष चुने जाने के बाद मधुरिमा पोरसा के कॉलेज में परीक्षा देने पहुंचीं। वे राजनीति शास्त्र की छात्रा हैं और अभी परीक्षाएं चल रही हैं।

Copy

टीकमगढ़: विधायकों के परिजनों की जीत
टीकमगढ: टीकमगढ़ जनपद में विधायक राकेश गिरि की बहन कल्याणी गिरि चुनाव जीती हैं। निवाड़ी में विधायक अनिल जैन की पत्नी निरंजना जैन जीती हैं।
बल्देवगढ़: जनपद में खरगापुर विधायक राहुल सिंह की समर्थक जयश्री यादव चुनाव हार गईं। पूर्व आबकारी मंत्री यादवेन्द्र सिंह बुंदेला की बहू उज्जवला सिंह जीतीं हैं।
सिलवानी: यहां तरुवर सिंह अध्यक्ष बने। वे पूर्व मंत्री व विधायक रामपाल सिंह के बहनोई हैं।
सागर: जनपद अध्यक्ष के पद पर सविता पृथ्वी सिंह निर्विरोध निर्वाचित हुईं। सविता मंत्री भूपेंद्र सिंह की बहू हैं।

झूठ बोलने से कांग्रेस एक्सपोज हो गई: वीडी
हरदा में दोपहर 1.30 बजे अध्यक्ष पद का परिणाम एसडीएम श्रुति अग्रवाल को घोषित करना था, लेकिन 4 बजे तक विजेता के नाम की घोषणा नहीं हो सकी। इससे पहले प्रॉक्सी वोटर्स को लेकर कांग्रेस ने भाजपा की तरफ से वोटिंग रूम में जाने पर विरोध जताया। कांग्रेसी भीतर घुसने व वोटिंग रूम में जाने वालों को रोकने की कोशिश करने लगे। तब पुलिस व कांग्रेस नेताओं के बीच बहस व धक्का-मुक्की हुई।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा कि इन चुनाव परिणामों के बाद अब कांग्रेस पूरी तरह से एक्सपोज हो गई है। कांग्रेस का झूठ, छलकपट उजागर हो गया है। उन्होंने दावा किया कि जनपद के चुनाव में 121 सीटों पर भाजपा समर्थित उम्मीदवार जीते हैं। अभी तक जो परिणाम आए हैं, उसमें 75 प्रतिशत से ऊपर सीटें जीती हैं।

बागियों को अपना बता रही भाजपा: कांग्रेस
कांग्रेस ने कहा कि भाजपा ने ऐसे अध्यक्षों को अपना बताया है, जो वास्तव में कांग्रेसी हैं। कांग्रेस ने वीडी शर्मा को चेतावनी दी है कि यदि वे सच बोल रहे हैं तो उन्हें बागियों को भी अपने पक्ष में गिनती क्यों गिनना पड़ी। प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष केके मिश्रा ने ये आरोप लगाए। उन्होंने कहा, मुख्यमंत्री के गृह जिला सीहोर के नसरुल्लागंज जनपद में भी कांग्रेस जीत गई थी। लेकिन, प्रशासन के दबाव में पर्चा वापस करा दिया गया।

गरोठ में चुनाव परिणाम पर रोक: मंदसौर के गरोठ जनपद में अध्यक्ष-उपाध्यक्ष पद के लिए गुरुवार को चुनाव होगा। वार्ड 24 की प्रत्याशी सोनू कुंवर ने चुनाव में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए हाईकोर्ट में याचिका लगाई है। लिहाजा यहां कोर्ट के निराकरण तक चुनाव परिणाम पर रोक लगा दी गई है।



उमध्यप्रदेश की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Madhya Pradesh News