जगदीप धनखड़ का झुंझुनूं से है नाता, उपराष्ट्रपति उम्मीदवार की घोषणा के बाद से गांव किठाना में मनाया जा रहा जश्न

0
292

जगदीप धनखड़ का झुंझुनूं से है नाता, उपराष्ट्रपति उम्मीदवार की घोषणा के बाद से गांव किठाना में मनाया जा रहा जश्न

jagdeep dhankar announced as vice president candidate: पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ को एनडीए ने अपना उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाने की घोषणा की है। इस घोषणा के बाद धनकड़ के राजस्थान स्थित झुंझुनूं के किठाना गांव में जश्न मनाया जा रहा है। जगदीप धनखड़ केन्द्र में मंत्री भी रह चुके हैं।

 

हाइलाइट्स

  • झुंझुनू के जगदीप धनखड़ उपराष्ट्रपति उम्मीदवार बने
  • पश्चिम बंगाल के राज्यपाल धनखड़ है झुंझुनूं जिले के रहने वाले
  • उपराष्ट्रपति उम्मीदवार की घोषणा के बाद किठाना गांव में जश्न का माहौल
झुंझुनूं: राष्ट्रीय जनतान्त्रिक गठबन्धन (NDA) ने बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ को उप राष्ट्रपति का उम्मीदवार (jagdeep dhankar announced as vice president candidate) बनाया है। जगदीप धनखड़ झुंझुनूं के किठाना (kithana, jhunjhunu) गांव के रहने वाले हैं। जगदीप धनखड़ को उपराष्ट्रपति का उम्मीदवार की घोषणा के साथ जिले में खुशी का माहौल है। उनके गांव किठाना में घोषणा के बाद से जश्न मनाया जा रहा है। ग्रामीणों इस घोषणा के बाद एक दूसरे को बधाई देते खुशी जाहिर करते नजर हा रहा हैं। जगदीप धनखड़ का जन्म राजस्थान में झुंझुनूं जिले के किठाना गांव में एक सामान्य किसान परिवार में 18 मई 1951 को हुआ था। इनके पिता चौधरी गोकुलचंद धनखड़ खेती करते थे। धनखड़ ने सैनिक स्कूल चित्तौडगढ़ (Sainik School Chittorgarh) और राजस्थान विश्वविद्यालय (rajasthan university) जयपुर से शिक्षा ग्रहण की थी। उन्होंने 1977 से राजस्थान उच्च न्यायालय में वकालत करनी शुरू कर दी थी। 1986 में मात्र 35 वर्ष की उम्र में ही धनखड़ राजस्थान हाई कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष बन गए थे। वे बार कौंसिल के भी सदस्य रहे है। जगदीप धनखड़ ने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल के रूप में 20 जुलाई 2019 को शपथ ली थी।

ये रहा है राजनीतिक सफर
नौवीं लोकसभा (1989 से 1991) के लिए राजस्थान में झुंझुनूं संसदीय सीट से जनता दल उम्मीदवार के रूप में विजयी हुए थे। उसी दौरान कुछ समय के लिए वो वीपी सिंह की सरकार में संसदीय कार्य मंत्रालय में उप मंत्री बने। बाद में चंद्रशेखर की सरकार में उन्हे मंत्री नहीं बनाया गया। वहीं 1991 में उन्होंने जनता दल छोड़कर कांग्रेस की सदस्यता ले ली। उन्होंने 1991 में कांग्रेस टिकट पर अजमेर से लोकसभा चुनाव लड़ा मगर भाजपा के रासा सिंह रावत से हार गए। 1993 में उन्होंने राजस्थान विधानसभा चुनाव में अजमेर जिले की किशनगढ़ विधानसभा चुनाव से कांग्रेस टिकट पर लड़ कर विजयी हुए। उन्होंने भाजपा के जगजीतसिंह को एक हजार नौ से 58 वोटों से हराया था। 1998 में उन्होंने झुंझुनू से कांग्रेस टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ कर तीसरे स्थान पर रहे थे।
navbharat times -Jagdeep Dhankhar: कांग्रेस से कभी नाता, राजस्थान से वाया बंगाल अब एनडीए के उपराष्ट्रपति उम्मीदवार जगदीप धनखड़ की ऐसी है पूरी कहानी
वसुंधरा के अध्यक्ष रहते 2003 में भाजपा की सदस्यता ग्रहण की

धनखड़ ने 2003 में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बनने पर उन्होंने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली थी। गत विधानसभा चुनावों में उनके कांग्रेस में शामिल होने की चर्चा होती रहती थी। मगर उन्होंने भाजपा नहीं छोड़ी। धनखड़ वर्तमान में सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील है तथा इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ आर्बिट्रेशन पेरिस के सदस्य हैं। राजस्थान के जाटों को अन्य पिछड़ा वर्ग में आरक्षण दिलाने में धनखड़ की महत्ती भूमिका रही थी। धनखड़ के उप राष्ट्रपति का उम्मीदवार की घोषणा के बाद उनके गांव किठाना गृह जिले झुंझुनूं सहित राजस्थान के लोगों में खुशी की लहर दौड़ गई है।

Copy

Jagdeep Dhankar Vice President Candidate: जगदीप धनखड़ NDA के उपराष्ट्रपति प्रत्याशी, BJP ने चौंकाया

आसपास के शहरों की खबरें

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुकपेज लाइक करें

Web Title : west bengal governor jagdeep dhankar announced as vice president candidate of nda celebrations starts in his village kithana
Hindi News from Navbharat Times, TIL Network

राजस्थान की और समाचार देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Rajasthan News