ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी 4.0: प्रदेश सरकार मोदी के संकल्पों के अनुरूप को यूपी को भारत का ग्रोथ इंजन बनाने की दिशा में आगे बढ़ी- योगी | Ground Breaking Ceremony 4.0 cm yogi said Will make UP growth engine of new India In line with Modi resolutions | Patrika News

7
ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी 4.0: प्रदेश सरकार मोदी के संकल्पों के अनुरूप को यूपी को भारत का ग्रोथ इंजन बनाने की दिशा में आगे बढ़ी- योगी | Ground Breaking Ceremony 4.0 cm yogi said Will make UP growth engine of new India In line with Modi resolutions | Patrika News

ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी 4.0: प्रदेश सरकार मोदी के संकल्पों के अनुरूप को यूपी को भारत का ग्रोथ इंजन बनाने की दिशा में आगे बढ़ी- योगी | Ground Breaking Ceremony 4.0 cm yogi said Will make UP growth engine of new India In line with Modi resolutions | News 4 Social

जीबीसी में बोलते हुए केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि विगत 6-7 वर्षों में प्रदेश ने अपनी इमेज बदली है। 07 वर्ष पूर्व यह देश का बीमारू राज्य तथा देश के विकास का बैरियर माना जाता था। आज यह बीमारू राज्य की श्रेणी से उबर कर देश के अनलिमिटेड पोटेंशियल युक्त राज्य के रूप में स्थापित हुआ है। प्रदेश सरकार राज्य के विकास के लिए तय किए गए लक्ष्यों को समयबद्ध तरीके से प्राप्त कर रही है।

7 सालोंं में प्रदेश में प्रति व्यक्ति की आय हुई दोगुनी
ग्राउण्ड ब्रेकिंग सेरेमनी 4.0 के अन्तर्गत प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफ0डी0आई0) कॉन्क्लेव में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में प्रकृति, परमात्मा तथा प्रतिभाशाली युवाओं की त्रिवेणी है। राज्य इसके माध्यम से प्रधानमंत्री जी के मार्गदर्शन व नेतृत्व में आगे बढ़ रहा है। विगत 07 वर्षों में प्रदेश की अर्थव्यवस्था तथा प्रति व्यक्ति आय को दोगुना करने में सफलता प्राप्त हुई है। इसके पीछे प्रधानमंत्री जी का विजन था, जिसे प्रभावी ढंग से, मिशन रूप में अलग-अलग सेक्टर की नीतियां तय कर तथा कानून व्यवस्था की बेहतर स्थिति देकर आगे बढ़ाया।

500 कम्पनियों के लिए नीति लाने वाला देश का पहला राज्य यूपी
मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश के बदले हुए वातावरण के परिणामस्वरूप उत्तर प्रदेश देश की दूसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बन चुका है। यह रिवेन्यू सरप्लस राज्य के रूप में स्थापित है। प्रदेश एफ0डी0आई0 तथा फॉर्च्यून ग्लोबल 500 कम्पनियों के लिए नीति लाने वाला देश का पहला राज्य बन चुका है। प्रदेश में वर्ष 2000 से 2017 के बीच कुल 17 वर्षों में जितना एफ0डी0आई0 आया, इसके चार गुना एफ0डी0आई0 वर्ष 2019 से 2023 के बीच मात्र 04 वर्षों में प्राप्त हुआ। सरकार की साफ नीयत, स्पष्ट नीति तथा सुरक्षित वातावरण में निवेशक निवेश के इच्छुक होते हैं। राज्य में आज यह वातावरण दिखाई दे रहा है।

ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023 में 400 बिलियन डॉलर का निवेश हुआ प्रस्ताव
वर्तमान में राज्य में 14 फॉर्च्यून ग्लोबल 500 कम्पनियां कार्यरत हैं। इनमें सैमसंग, माइक्रोसॉफ्ट, एल0जी0, पेप्सिको, नायरा एनर्जी, रिलायंस इंडस्ट्रीज, टाटा, हिंदुस्तान यूनिलीवर, हायर, आईकिया, ए0आई0 लिक्विडे तथा डेन्सो आदि सम्मिलित हैं। यह कम्पनियां सफलतापूर्वक अपने व्यवसाय को आगे बढ़ा रही हैं। यू0पी0 ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023 में 400 बिलियन यू0एस0 डॉलर के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए।

टेक्नोलॉजी के माध्यम से निवेशकों की समस्या का हो रहा समाधान
सिंगल विण्डो सुविधा युक्त निवेश मित्र पोर्टल निवेशकों की सुविधा के लिए कार्य कर रहा है। एम0ओ0यू0 मॉनीटरिंग के लिए निवेश सारथी पोर्टल निवेशकों की सेवा में समर्पित है। राज्य में सफलता पूर्वक निवेश करने वाले निवेशकों के लिए इन्सेंटिव मॉनीटरिंग सिस्टम प्रभावी ढंग से कार्य कर रहा है। टेक्नोलॉजी के माध्यम से निवेशकों की समस्या का समाधान करने के लिए इसे और भी अच्छा बनाने का प्रयास किया गया है।

इस अवसर पर औद्योगिक विकास मंत्री श्री नन्द गोपाल गुप्ता ‘नन्दी’, श्रम एवं सेवायोजन मंत्री अनिल राजभर, औद्योगिक विकास राज्य मंत्री जसवन्त सिंह सैनी, मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त मनोज कुमार सिंह, प्रमुख सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास अनिल कुमार सागर, सी0ई0ओ0 इन्वेस्ट अभिषेक प्रकाश सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

उत्तर प्रदेश की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Uttar Pradesh News