गणेश चतुर्थी 2021: घर-घर में विराजेे प्रथम पूज्य गजानन, पूरे शहर में उत्सव का माहौल- देखें वीडियो

0
79

गणेश चतुर्थी 2021: घर-घर में विराजेे प्रथम पूज्य गजानन, पूरे शहर में उत्सव का माहौल- देखें वीडियो

गणेश चतुर्थी 2021: घर-घर में विराजेे प्रथम पूज्य गजानन, पूरे शहर में उत्सव का माहौल

जबलपुर। श्रीगणेश चतुर्थी के अवसर पर पूरे शहर में जय गणेश देवा की गूंज सुनाई दे रही है। कोरोना संकट को देखते हुए इस वर्ष भी लोग कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए श्री गणेश उत्सव मना रहे हैं। अपने-अपने घरों में भी मिट्टी के गणपति बैठाकर उनकी विधिवत पूजा करने की तैयारी में लगे हुए हैं। शुक्रवार से गणेश प्रतिमाओं की स्थापना के बाद से 10 दिन के लिए शहर में भक्ति का सैलाब उमड़ेगा।

गणेश समितियों ने भी की तैयारी, शहर में उत्सव का माहौल

पूरे दिन स्थापना का मुहूर्त
ज्योतिषाचार्य पंडित जनार्दन शुक्ला के अनुसार भगवान श्रीगणेश के पूजन के विशेष दिनों का पर्व गणेश उत्सव इस साल 10 सितम्बर गणेश चतुर्थी से शुरू हो रहा है। पौराणिक मान्यता के अनुसार भाद्रपद माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि के दिन भगवान गणेश का जन्म हुआ था। इसलिए इस दिन को गणेश चतुर्थी के रूप में मनाया जाता है। गणेश भक्त इस दिन गणपति बप्पा की मूर्तियां स्थापित करेंगे। इसके बाद आने वाले दस दिन तक गणपति बप्पा का पूजन और सेवा की जाएगी। चतुर्थी तिथि 10 सितंबर को दिन में 12.18 बजे से प्रारम्भ हो कर रात्रि 10.58 बजे तक रहेगी। प्रतिमा स्थापना चतुर्थी तिथि में पूरे दिन की जा सकती है।

 

समितियों ने की तैयारी
केंद्र सरकार की नई गाइड लाइन के अनुसार गणेश प्रतिमाओं की स्थापना और विसर्जन किया जाएगा। समिति 30 बाई 45 फीट का पंडाल लगाकर प्रतिमाओं की स्थापना कर सकती हैं। वहीं विसर्जन के लिए प्रतिमाओं को ले जाने के लिए 10 लोगों को अनुमति दी गई है। पंडालों में कोरोना गाइडलाइन का सख्ती के साथ पालन किया जाना जरूरी होगा। गणेश समितियों ने गणेश प्रतिमाओं की स्थापना के लिए पंडाल सजाए हैं।






Show More














उमध्यप्रदेश की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Madhya Pradesh News