Home Top stories ‘क्या मनीष सिसोदिया की भी याददाश्त जाने वाली है… केजरीवाल को सत्ता...

‘क्या मनीष सिसोदिया की भी याददाश्त जाने वाली है… केजरीवाल को सत्ता में रहने का हक नहीं’, AAP पर जमकर भड़के अनुराग ठाकुर

0
101

‘क्या मनीष सिसोदिया की भी याददाश्त जाने वाली है… केजरीवाल को सत्ता में रहने का हक नहीं’, AAP पर जमकर भड़के अनुराग ठाकुर

नई दिल्ली: केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर अपने भ्रष्ट मंत्रियों को संरक्षण देने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि केजरीवाल को सत्ता में बने रहने का कोई हक नहीं है और उनके भ्रष्ट मंत्रियों को भी तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए।

केजरीवाल सरकार पर शराब माफिया को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा कि इस मामले में बीजेपी की ओर से लगाए गए गंभीर आरोपों का केजरीवाल कोई जवाब नहीं दे पाए, जिससे यह साबित होता है कि उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने इस पूरे मामले की सीबीआई जांच की जो सिफारिश केंद्रीय गृह मंत्रालय से की है, उसमें ताकत, तथ्य और सत्य है।

‘तू इधर उधर की न बात…’

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने शायरी के अंदाज में भी केजरीवाल और उनकी सरकार पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने एक वीडियो ट्वीट कर कहा, ‘तू इधर उधर की न बात कर ये बता कि क़ाफ़िला क्यूँ लुटा, मुझे रहज़नों से गिला नहीं तिरी रहबरी का सवाल है। केजरीवाल जी, खुद से खुद को ईमानदारी का सर्टिफिकेट देना बंद करिए और बताइए शराब माफिया से आम आदमी पार्टी नेताओं की क्या साँठ-गाँठ है?’

‘केजरीवाल के नाक तले उनके लोग कर रहे हैं घोटाला’
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री के पास कोई विभाग नहीं है, लेकिन एक के बाद एक विभागों में घोटाले हो रहे हैं। केजरीवाल के नाक तले उनके लोग मिलकर घोटाला कर रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि सत्येंद्र जैन के बारे में भी केजरीवाल ने दावा किया था, लेकिन वह भ्रष्टाचार के गंभीर मामले में जेल में हैं और दो महीने से उन्हें जमानत नहीं मिली है। ठाकुर ने कटाक्ष करते हुए पूछा कि जिस तरह से जेल जाते ही सत्येंद्र जैन की याददाश्त चली गई, क्या उसी तरह से अब मनीष सिसोदिया की भी याददाश्त जाने वाली है।

भ्रष्टाचार के नए आयाम खड़े हो रहे हैं’
ठाकुर ने आम आदमी पार्टी और केजरीवाल पर निशाना जारी रखते हुए आगे कहा कि राजनीति में आने से पहले भ्रष्टाचार मुक्त भारत की बात करने वाले केजरीवाल की सरकार में ही भ्रष्टाचार के नए आयाम खड़े हो रहे हैं। कभी विधायक और कभी मंत्री पर आरोप लग रहे हैं, लेकिन केजरीवाल ठोस जवाब देने की बजाय चुप हैं और भ्रष्टाचारियों को सरंक्षण दे रहे हैं।

Copy

क्या है मामला
दिल्ली सरकार की आबकारी नीति में गड़बड़ियों की शिकायत मिलने पर दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने इस पूरे मामले की सीबीआई जांच कराने की सिफारिश केंद्रीय गृह मंत्रालय से की है। एलजी की इस सिफारिश के बाद भाजपा नेता लगातार केजरीवाल सरकार पर हमला बोल रहे हैं।

राजनीति की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – राजनीति
News