कड़क साहब रहे हैं ‘गालीबाज’ IAS केके पाठक, Muzaffarpur के रेहड़ी पटरी वालों के रहे मसीहा

17
कड़क साहब रहे हैं ‘गालीबाज’ IAS केके पाठक, Muzaffarpur के रेहड़ी पटरी वालों के रहे मसीहा

कड़क साहब रहे हैं ‘गालीबाज’ IAS केके पाठक, Muzaffarpur के रेहड़ी पटरी वालों के रहे मसीहा


Viral Video of KK Pathak: जूनियर अफसरों को गाली देने को लेकर बिहार के IAS केके पाठक सुर्खियों में हैं। गाली देने का केके पाठक का पुराना इतिहास रहा है। हालांकि केके पाठक की छवि कड़क ऑफिसर की रही है। मुजफ्फरपुर के लोग आज भी केके पाठक को याद करते हैं। लोग कहते हैं केके साहब कड़क तो हैं लेकिन काम भी करते हैं।

 

मुजफ्फरपुर: बिहार के सीनियर आईएएस अधिकारी केके पाठक का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें वह बैठक के दौरान अधिकारियों के खिलाफ अपमानजनक बातें कह रहे हैं। केके पाठक एक सख्त प्रशासक के तौर पर जाने जाते हैं और गाली देने का इनका पुराना इतिहास रहा है। मुजफ्फरपुर के सीजीएम कोर्ट में बिहार के उत्पाद आयुक्त केके पाठक के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का परिवाद मुजफ्फरपुर के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के न्यायलय में पहले से चल रहा है। यह मामला मद्य निषेध के विशेष लोक अभियोजक बजरंग प्रसाद की मौत से जुड़ा है।

केके पाठक की डांट के बाद बजरंग प्रसाद की मौत का आरोप

वकील सुशील कुमार सिंह की ओर से दर्ज परिवाद में मानसिक प्रताड़ना का आरोप लगाया गया है। सुशील कुमार सिंह ने बताया कि 29 अक्टूबर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पुलिस और शराब माफियाओं की गठजोड़ में अभियुक्तों के खिलाफ स्पेशल कोर्ट उत्पाद में उत्पाद मुकदमों की धीमी गति को लेकर केके पाठक की ओर से अभियोजक बजरंग प्रसाद को काफी जलील किया गया। आरोप है कि उनके साथ गाली-गलौज तक की गई। मानसिक रूप से उन्हें टॉर्चर किया गया। इससे बजरंग प्रसाद काफी तनाव में चले गए और उनकी मृत्यु हो गई। इसको लेकर उन्होंने यह परिवाद दायर किया था। परिवाद की सुनवाई की अगली तिथि 28 फरवरी को सुनिश्चित की गई है।

Bihar IAS K K Pathak Viral Video: बिहारियों और डिप्टी कलेक्टर को गरियाने लगे आईएएस अफसर, वायरल हो गया वीडियो

मुजफ्फरपुर में केके पाठक किए जाते हैं याद

मुजफ्फरपुर नगर निगम के प्रशासक की हैसियत से काम की शुरुआत करने वाले IAS केके पाठक की पहचान एक कर्मठ और सख्त पदाधिकारी की रही है। उन्होंने 90 के दशक में मुजफ्फरपुर नगर निगम के प्रशासक की हैसियत से कई अहम फैसले लिये। जहां उन्होंने नगर निगम की व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त बनाने की कवायद की। फुटकर दुकानदारों को स्टेशन रोड में दुकानें बनाकर नियमित आशियाना दिया।
‘सा… डिप्टी कलेक्टर @#$@’, बिहार के IAS केके पाठक ने जूनियर अफसरों से लेकर बिहारियों पर कर दी गालियों की बौछार

कड़क पदाधिकारी की रही है छवि

वहीं अतिक्रमण के खिलाफ सख्त कदम उठाते हुए बड़े से बड़े रसूखदार के मकान और दुकानों पर हथौड़ा चलाने का काम किया। अपने कार्यकाल के दौरान सदैव चर्चा में रहे पाठक की अदावत मौजूदा नगर विधायक विजेंद्र चौधरी (तब विधायक नहीं) सा भी चर्चा में रही। एक पत्रकार से हुई विवाद इस कदर बढ़ी की अंततः राज्य सरकार की ओर से उनका तबादला कर दिया गया। हालांकि छोटे से कार्यकाल में ही केके पाठक मुजफ्फरपुर वासियों के दिल में बसे और एक कड़क पदाधिकारी के रूप में वह छवि दे गए जो आज तक लोग उन्हें अदब से याद किया करते हैं।
navbharat times -IAS K K Pathak किसी भी कैडर के हों, बिहारियों का अपमान बर्दाश्त नहीं… होगी कार्रवाई: मंत्री अशोक चौधरी

सकंट में याद किए जाते हैं केके पाठक

भले ही वह मुजफ्फरपुर से दूर रहे हो, लेकिन कई मौकों पर आला हुक्मरान के रूप में उन्होंने मुजफ्फरपुर में व्याप्त भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने हेतु हमकदम उठाया है। जिसमें रजिस्ट्री कार्यालय मैं तात्कालिक जिलाधिकारी मोहम्मद सोहेल की ओर से छापेमारी के पश्चात उनका तबादला कर दिया गया था, जिसके बाद केके पाठक ने चप्पे-चप्पे पर सीसीटीवी कैमरा लगवा दिया ताकि बिचौलिये दिन के उजाले में काले धंधे का खेल न खेल सके। बिहार सरकार ने भी उनके बेदाग छवि को इस्तेमाल करने के लिए जब कभी संकट के हालात देखे केके पाठक को याद किया।
navbharat times -KK Pathak: 36 सेकेंड में 11 बार गालियां, कड़क ‘केके’ से गालीबाज IAS तक
चाहे वह लचर हालत में रहे परिवहन विभाग हो चाहे वह बिस्कोमान हो या फिर शराबबंदी का मामला। कानून को सतही तौर पर अमलीजामा पहनाने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सदैव ही केके पाठक को तरजीह दी और उन्होंने भी सरकार को बेहतर परिणाम देने का काम किया। ऐसा कहा जाता है कि पाठक जहां कहीं भी पदस्थापित हुए एक ब्रीफकेस में उनका कपड़ा तैयार रहा और वह खुद भी मन से तैयार रहते। क्या पता कोई फैसला उन्हें दूसरे गंतव्य को चलने का इशारा कर दे।
रिपोर्ट: संदीप कुमार

आसपास के शहरों की खबरें

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुकपेज लाइक करें

बिहार की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News