एडम जम्पा की खैर नहीं, आठ बार आउट हो चुके विराट कोहली, इस बार बजाएंगे कायदे से बैंड

22
एडम जम्पा की खैर नहीं, आठ बार आउट हो चुके विराट कोहली, इस बार बजाएंगे कायदे से बैंड


एडम जम्पा की खैर नहीं, आठ बार आउट हो चुके विराट कोहली, इस बार बजाएंगे कायदे से बैंड

मुंबई: विराट कोहली का बल्ला ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जमकर बोलता है। अहमदाबाद में खेले गए चौथे और आखिरी टेस्ट में 186 रन बनाने से पहले ही उन्होंने शॉर्ट फॉर्मेट की खराब फॉर्म को पीछे छोड़ दिया था। उन्होंने इस साल 67.60 के शानदार औसत से 338 रन बनाए हैं और अपने पसंदीदा प्रतिद्वंद्वी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 75 इंटरनेशनल शतकों के आंकड़े को आगे बढ़ाना चाहेंगे। कोहली इस दौरान ऑस्ट्रेलिया के लेग स्पिनर एडम जम्पा का सामना कैसे करते है यह देखना दिलचस्प होगा।

विराट के दुश्मन नंबर-1 जम्पा

दरअसल, भारतीय रन मशीन के खिलाफ जम्पा का रिकॉर्ड शानदार रहा है। दुनिया का हर गेंदबाज उन्हें फंसाना चाहता है। काम मुश्किल जरूर है, लेकिन जम्पा के बाएं हाथ का खेल। विराट के वह सबसे बड़े दुश्मन हैं। इंटरनेशनल क्रिकेट में कोहली को सबसे ज्यादा आठ बार आउट करने वाला अगर कोई गेंदबाज है तो वह एडम जम्पा ही हैं, उन्होंने वनडे में पांच और टी-20 इंटरनेशनल में तीन बार कोहली को आउट किया।


कमिंस का नाम दूसरे नंबर पर

दूसरे नंबर परऑस्ट्रेलिया के टेस्ट कप्तान पैट कमिंस का नाम आता है, जिन्होंने विराट कोहली को 28 पारियों में सात बार आउट किया। भारत के पास भी क्वालिटी स्पिन अटैक है। कुलदीप यादव इस साल पांच मैचों में 11 विकेट लेकर भारत के सर्वश्रेष्ठ स्पिनर रहे हैं। युजवेंद्र चहल का साथ मिलते ही दोनों और घातक हो जाते हैं।

गिल का पार्टनर कौन होगा?

साल 2023 में खेले गए छह वनडे मुकाबलों में शुभमन गिल ने तीन शतक और 113.40 की औसत के साथ 567 रन बनाए हैं। पहले मैच में रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में उन पर टीम को अच्छी शुरुआत दिलाने का दबाव होगा। अहमदाबाद में चौथे और आखिरी मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट शतक के बाद उनसे ऐसे ही प्रदर्शन की उम्मीद होगी। हो सकता है शुभमन गिल का ओपनिंग साथी ईशान किशन को बनाया जाए।


वर्ल्ड कप का साल
50 ओवर का वर्ल्ड कप इसी साल अक्टूबर नवंबर में भारत में होगा। भारत ने अपना पिछला विश्वकप घरेलू सरजमीं पर महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में 2011 में जीता था। इसे ध्यान में रखते हुए रोहित शर्मा की अगुवाई वाली टीम से भी ऐसी ही सफलता की उम्मीद होगी। भारतीय टीम ने इस साल श्रीलंका और न्यूजीलैंड के खिलाफ दो अलग-अलग वनडे सीरीज में सभी छह मैच जीतकर शानदार शुरुआत की है।

IND vs AUS: पांच का पावर… ऑस्ट्रेलिया से टीम इंडिया को क्यों घबराना चाहिए, एक से बढ़कर एक भरे हैं सूरमाNavbharat Times -Virat Kohli vs Adam Zampa: कोहली की ऐसी कौन सी नस पकड़ बैठे हैं जम्पा, जो खेल ही नहीं पाते विराट



Source link