उदासीनता: तो फिर हो जाएगी एक लाख वैक्सीन एक्सपायर | Apathy: Then one lakh vaccines will expire | Patrika News

0
98

उदासीनता: तो फिर हो जाएगी एक लाख वैक्सीन एक्सपायर | Apathy: Then one lakh vaccines will expire | Patrika News

दरअसल जिले में तीसरी लहर के दौरान बड़ी आबादी को वैक्सीन दी गई। लोगों ने दोनों डोज तो ले लिए, लेकिन बूस्टर डोज में रुचि नहीं दिखा रहे हैं। इतना ही नहीं, 18 से 59 उम्र के लोगों के लिए सरकार ने वैक्सीन का बूस्टर डोज निजी अस्पतालों में सशुल्क लगवाने की व्यवस्था क्या की, लोग डोज लेना ही भूल गए। निजी अस्पतालों में नाममात्र के लोग वैक्सीन लगवा रहे हैं।

बच्चों में भी नही रुचि दूसरी लहर में संक्रमण की भयावाह स्थिति बनने के बाद पूरे देश मे बच्चों को वैक्सीन का सुरक्षा कवच देने की मांग उठने लगी। सरकार ने भी पहले 14 से 17 और फिर 12 से 14 उम्र के बच्चों को वैक्सीन देने की पहल कर दी। शुरुआत में बच्चों ने खूब उत्साह दिखाया, धीरे-धीरे बड़ों की तरह बच्चों के वैक्सिनेशन में रुचि कम हो गई। यही हालत बूस्टर डोज में भी है। जिन बच्चों के दोनों डोज हो गए और बूस्टर का समय आ गया, वे भी सेंटर पर कम ही पहुंच रहे हैं। चुनाव ने बढ़ाया आंकड़ा प्रदेश में हो रहे निकाय और पंचायत चुनाव में जुटे अधिकारियों और कर्मचारियों को वैक्सीन के सभी डोज जरूरी किए गए हैं। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने चुनाव प्रशिक्षण केंद्र पर ही टीकाकरण की व्यवस्था की, जिस वजह से टीकाकरण का आंकड़ा 100-200 से बढ़कर सीधे 1000 पार हो गया।

अभियान में लाएंगे तेजी स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने दावा किया है कि वे अगले दो माह में टीकाकरण अभियान को बढ़ावा देकर शेष समय में वैक्सीन का उपयोग करने की कोशिश कर रहे हैं। कोविशील्ड की 4,650 खुराक 29 जून तक बेकार हो जाएंगीं, जबकि 38,000 से अधिक डोज जुलाई माह में समाप्त होंगे। इसी तरह 1,10,800 डोज की एक्सपायरी डेट 6 अगस्त है। टीकाकरण अधिकारी डॉ. तरुण गुप्ता के अनुसार स्टॉक में 1.75 लाख से अधिक वै?सीन खुराक हैं, जिनमें कोवैक्सीन की लगभग 60,000 खुराक शामिल हैं और शेष कोविशील्ड हैं। हम हर दिन 1000 से अधिक खुराक दे रहे हैं। विभाग बूस्टर डोज लेने से बचे लोगों को कवर करने के लिए टीकाकरण अभियान ‘घर-घर दस्तक’ चला रहा है।

जिले में टीकाकरण एक नजर में इंदौर जिले में अब तक 67,88,589 लोगों को कोरोना वैक्सीन लग चुकी है। पहला डोज 34,53,569 लोगों और दूसरा डोज 31,75,317 को लगा है। वहीं बूस्टर डोज 1,59,703 लोगों को लग चुका है। इनमें 60 साल से अधिक आयु वर्ग के 7,87,829 लोगों को, 45 से 59 आयु वर्ग के 13, 37,571 लोगों को, 18 से 44 वर्ष की आयु वर्ग में 42,48,640 व 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग में 2,78,694 लोगों को डोज लगे हैं। इसी प्रकार 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग में 1,18, 264 को वै?सीन डोज लगे हैं। बूस्टर डोज 27,414 हेल्थ वर्कर को, 36,174 फ्रंटलाइन वर्कर को और 75,855 डोज 60 साल से अधिक आयु वर्ग के लोगों को लगे हैं। इसी प्रकार 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग में 8905 और 45 से 59 वर्ष की आयु वर्ग में 7781 लोगों ने बूस्टर डोज में रुचि दिखाई है।

इंदौर जिले में वैक्सीन कब तक असरदार? एक्सपायरी डेट वैक्सीन की संख्या
29 जून 4670
8 जुलाई 1160
18 जुलाई 10710
22 जुलाई 5880
23 जुलाई 40
26 जुलाई 20000
06 अगस्त 110800



उमध्यप्रदेश की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Madhya Pradesh News