उदयपुर हत्याकांड: कन्हैयालाल के दोनों बेटों को मिली सरकारी नौकरी, कनिष्ठ सहायक कोषाधिकारी के पद किया ज्वॉइन

0
132

उदयपुर हत्याकांड: कन्हैयालाल के दोनों बेटों को मिली सरकारी नौकरी, कनिष्ठ सहायक कोषाधिकारी के पद किया ज्वॉइन

Udaipur News: पिछले महीने उदयपुर में टेलर कन्हैयालाल की निर्मम हत्याकांड मामले में राजस्थान सरकार की घोषणा के अनुसार कन्हैया के दोनों बेटों को सरकारी नौकरी दी गई है। उनके दोनों बेटों ने शुक्रवार को उदयपुर में नौकरी ज्वॉइन कर ली है। कन्हैयालाल के बड़े बेटे यश का कनिष्ठ सहायक कोषाधिकारी ग्रामीण और छोटे बेटे तरुण का कनिष्ठ सहायक कोषाधिकारी शहर के रूप में पदस्थापन दिया गया है।

 

हाइलाइट्स

  • कन्हैयालाल हत्याकांड मामले की अपडेट
  • कन्हैयालाल के दोनों बेटो ने ज्वॉइन की सरकारी नौकरी
  • गहलोत सरकार ने हत्याकांड के बाद की थी सरकारी नौकरी देने की घोषणा
उदयपुर: राजस्थान केउदयपुर शहर (Uaipur, Rajasthan) की मालदास स्ट्रीट में 28 जून को हुए कन्हैयालाल हत्याकांड (Kanhiyalal Murder Case) के बाद पीड़ित परिवार को संबंल देने वाली घोषणाओं को सरकार ने शुक्रवार को अमली जामा पहनाया। कन्हैयालाल के दोनों बेटों को गहलोत सरकार (Ashok Gehlot Sarkar) ने सरकारी नौकरी देने की घोषणा की थी। शुक्रवार को दोनों बेटों ने जिला कोष कार्यालय में विधिवत रूप से कोषाधिकारी के पद पर ग्रहण किया। कन्हैयालाल के बड़े बेटे यश का कनिष्ठ सहायक कोषाधिकारी ग्रामीण और छोटे बेटे तरूण का कनिष्ठ सहायक कोषाधिकारी शहर के रूप में पदस्थापन दिया गया है। इससे पहले दोनों बेटों को मां ने घर से तिलक लगाकर और मुंह मीठा करवाकर विदा किया गया। इस दौरान दोनाें को मां ने ईमानदारी से कार्य करने की सीख दी। मां ने कहा कि ‘सरकारी नौकरी उन्हें उनके पिता की मौत पर मिली है इसलिए इस बात का हमेशा ध्यान रखना कि किसी प्रकार का कोई गलत नहीं हो। अन्यथा उनके पिता की आत्मा को दुख होगा।’

नौकरी पर जाने से पहले पिता की तस्वीर को किया नमन
मृतक कन्हैयालाल के दोनाें बेटों ने उदयपुर की जिला कलेक्ट्री में स्थित कोष कार्यालय पहुंचकर सबसे पहले अपने पिता की तस्वीर के सामने नमन करते हुए उनसे आशीर्वाद लिया। और उसके बाद पद ग्रहण किया। कन्हैयालाल के दोनों बेटे ने गहलोत सरकार की ओर से दी गई नौकरी के लिए सरकार का आभार जताया। साथ ही यह भी कहा कि पिता की हत्या के मामले में एनआईए की ओर से जो जांच की जा रही है, उससे वे पूरी तरह संतुष्ट हैं। लेकिन पूरे परिवार के सदस्यों को केवल इस बात का इंतजार है कि दोनों हत्यारों को कब तक फांसी की सजा होती है। फांसी की सजा के बाद ही उनके पिता की आत्मा को शांति मिलेगी।
navbharat times -‘बीजेपी नेता ने एक नेता ने की उदयपुर मर्डर केस के मुख्य आरोपी को बचाने की कोशिश’, सीएम गहलोत का बड़ा आरोप
पदग्रहण के दौरान परिवार सहित समाज के लोग रहे मौजूद
कन्हैयालाल साहू के दोनों बेटों के कोष कार्यालय में पदग्रहण के दौरान उनके परिजनों के साथ तैली समाज के लोग भी मौजूद रहे। समाज के लोगों ने दोनों को पदग्रहण करवाने के बाद राज्य सरकार का धन्यवाद ज्ञापित किया। समाज के मौतबीरों ने कहा कि राज्य सरकार ने अपनी घोषणा पूरी की लेकिन कन्हैयालाल के हत्यारों को फांसी हो इसके लिए कड़े कदम उठाने होगें। (रिपोर्ट – भगवान प्रजापत)

Copy

Udaipur Kanhaiya Murder Case: कन्हैयालाल के हत्यारों के घर और ठिकानों पर NIA की दबिश, जानिए क्या-क्या मिला


आसपास के शहरों की खबरें

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुकपेज लाइक करें

Web Title : udaipur murder: kanhaiya lal’s sons joins govt jobs today
Hindi News from Navbharat Times, TIL Network

राजस्थान की और समाचार देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Rajasthan News