इस जिद्दी सीएम पर दर्ज हो मर्डर केसः शराबबंदी खत्म करें सीएम- राजद; सारण में 13 मौत के बाद नीतीश कुमार पर बरसीं राजद नेत्री

0
120

इस जिद्दी सीएम पर दर्ज हो मर्डर केसः शराबबंदी खत्म करें सीएम- राजद; सारण में 13 मौत के बाद नीतीश कुमार पर बरसीं राजद नेत्री

बिहार में शराब पीकर लोगों की मौत की घटनाओं पर राजनीति शुरु हो गई है। सारण में शराब पीने से

11 लोगों की मौत के बाद राजद ने सीएम नीतीश कुमार पर बड़ा हमला किया है। पार्टी प्रवक्ता और

पूर्व विधायक ऋतु जायसवाल ने इन सभी मौतों के लिए सीएम को जिम्मेदार ठहराते हुए उन पर हत्या

का मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। इतना ही नहीं प्रवक्ता ने स्पीडी ट्रायल चलाकर नीतीश कुमार

को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की मांग की है। 

एक चैनल को दिए इंटरव्यू में ऋतु जायसवाल ने कहा कि इस दंभी मुख्यमंत्री की जिद के कारण हर

रोज लोग शराब पीकर मर रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि राजद शराबबंदी का समर्थन करती है लेकिन

बिहार में शराबबंदी सिर्फ कागज पर है। हकीकत में रोज शराब का अवैध निर्माण चल रहा है  और

दूसरे राज्यों से शराब बिहार में आ रहे हैं। उन्हें रोकने में सरकार और सरकारी तंत्र बिल्कुल फेल है।

ऋतु जायसवाल ने केंद्र की सरकार को भी आड़े हाथो लिया और कहा कि गुजरात में शराबबंदी लागू है

पर वहां भी शराब पीकर 40 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई। तो ऐसी शराबबंदी का को लेकर क्या

करें? अगर शराबबंदी के बावजूद राज्य में शराब बनाने से लेकर बेचने का काम होता है तो यह सरकार

की विफलता है और सभी मौत के लिए सरकार दोषी है। उन्होंने कहा कि सीएम नीतीश कुमार अपना

दंभ छोड़ें और शराबबंदी को खत्म करें।

अपनी बात कहते हुए राजद प्रवक्ता कई बार आक्रोशित हो गई। अपने इंटरव्यूज  के दौरान उन्होंने

जीतन राम मांझी पर निशाना साधा। पूर्व सीएम के एक बयान पर ऋतु जायसवाल ने कहा कि उनके

बयान पर हंसी आती है कि चैलेंज वे करते हैं जो कमजोर या कायर नहीं होते। मांझी जी को इतना तो

समझ में आना ही चाहिए।

Copy

पटना में जेपी नड्डा और अमित शाह के पटना में कार्यक्रम को राजद प्रवक्ता ने कपिल शर्मा का शो

बताया। कहा कि राज्य में जनता बाढ़ और सुखाड़ से परेशान है और वे पटना में ऐसा कार्यक्रम करते

हैं। चुटकी लेते हुए ऋतु जायसवाल ने कहा कि कहीं कपिल शर्मा अपना शो बंद न कर दें!

इस बीच सारण जिले के छपरा में शराब पीकर मरने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है। गुरुवार तक सात लोगों की मौत हुई थी। शुक्रवा को इलाज करा रहे दो लोगों ने दम तोड़ दिया। उसके बाद चार और लोग भी शराब पीने के बाद मौत के शिकार हो गए। अबतक कुल 13 की मौत हो चुकी है। यह आंकड़ा अभी बढ़ सकता है।

बिहार की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Delhi News