आशा पारेख ने अपने आशिक फैन को भिजवा दिया था जेल, जुनून में इस हद तक पहुंच गया था शख्स

0
58

आशा पारेख ने अपने आशिक फैन को भिजवा दिया था जेल, जुनून में इस हद तक पहुंच गया था शख्स

आशा पारेख का 60 और 70 के दशक में खूब जलवा था। उन्होंने कई साल तक फिल्मी पर्दे के साथ-साथ लोगों के दिलों पर राज किया। आशा पारेख अपने दौर की सबसे महंगी एक्ट्रेसेस में से एक रहीं। आशा पारेख को शुरुआत में फिल्मों में रिजेक्ट कर दिया गया था, लेकिन ‘दिल देके देखो’ ने उनकी ऐसी किस्मत लिखी कि हर कोई उन्हें ‘मिडास टच’ वाली हीरोइन कहने लगा। आशा पारेख के प्रति दीवानगी फिल्म इंडस्ट्री तक ही नहीं बल्कि दुनियाभर में फैल गई थी। दुनिया के कोने-कोने में आशा पारेख के फैन रहे। एक फैन तो ऐसा रहा जो आशा पारेख से शादी करने के लिए चीन से इंडिया आ गया और उनके घर के बाहर धरना देकर बैठ गया।

Asha Parekh का 2 अक्टूबर को 80वां बर्थडे (Happy Birthday Asha Parekh) है। हाल ही उन्हें हिंदी सिनेमा में योगदान के लिए दादासाहेब फाल्के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था। इस मौके पर हम आपको आशा पारेख के चीनी फैन का किस्सा बता रहे हैं, जो उनसे शादी करना चाहता था। एक्ट्रेस ने बाद में उस फैन को जेल में डलवा दिया था।

आशा पारेख के घर के बाहर रहने लगा चीनी फैन

आशा पारेख ने हाल ही ‘कनेक्ट एफएम कनाडा’ के साथ बातचीत में इंडियन फिल्म फेस्टिवल ऑफ बोस्टन के दौरान यह किस्सा सुनाया था। आशा पारेख ने कहा था, ‘मेरे घर के बाहर एक चीनी आदमी आकर रहने लगा। लोग जब उसे वहां से जाने के लिए कहते तो वो उन्हें छुरी निकालकर दिखा देता। पता चला कि वो मुझसे शादी करना चाहता था।’

Asha Parekh: आजकल का डांस देख दुखी हैं आशा पारेख, बोलीं- लगता है एरोबिक्स कर रहे हैं, भूल रहे हैं संस्कृति
आशा पारेख ने जेल में डलवा दिया, वहां से लिखी थी चिट्ठी

आशा पारेख उस फैन का जुनून देख हैरान थीं। उन्हें समझ नहीं आ रहा था कि आखिर उसे अपने घर के बाहर से हटाने के लिए वह क्या करें। कोई रास्ता न देख आशा पारेख ने मुंबई के तत्कालीन पुलिस कमिश्नर को फोन किया और फैन को जेल में डलवा दिया। इस बारे में एक्ट्रेस ने कहा था, ‘मैंने पुलिस कमिश्नर को फोन किया। उन्होंने उसे जेल में डाल दिया। उसने मुझे जेल से लेटर लिखा कि मुझे जेल में डाला है। मुझे बाहर निकालो। अब भई मैंने तो आपको अंदर डाला है। तो मैं बाहर कहां से निकालूं तुमको।’

navbharat times -Asha Parekh: आशा पारेख के 3 फैसले, जिसके बाद उन्‍हें हिटलर कहने लगे लोग! महेश भट्ट ने ऑफिस जाकर दी थीं गालियां
चाइल्ड आर्टिस्ट रहीं आशा पारेख, ‘दिल देके देखो’ से मिला स्टारडम
आशा पारेख ने चाइल्ड आर्टिस्ट के रूप में बेबी आशा पारेख के नाम से शुरुआत की थी। तब उन्होंने ‘मां’, ‘बाप बेटी’ समेत कुछ और फिल्मो में चाइल्ड आर्टिस्ट के तौर पर काम किया। आशा पारेख ने लीड हीरोइन के रूप में नासिर हुसैन की फिल्म ‘दिल देके देखो’ से शुरुआत की और वह छा गईं। अपने दशकों लंबे करियर में आशा पारेख ने ‘फिर वही दिल लाया हूं’, ‘जब प्यार किसी से होता है’, ‘तीसरी मंजिल’, ‘बहारों के सपने’, ‘प्यार का मौसम’ और ‘कारवां’ जैसी कई फिल्में कीं।

navbharat times -आशा पारेख: डायरेक्टर ने ये कहकर फिल्म से निकाला कि मैं स्टार मटीरियल नहीं, साइनिंग अमाउंट में मिले थे 11 रुपये
अब चलाती हैं डांस अकेडमी

आशा पारेख ने 1999 तक फिल्मों में काम किया और फिर एक्टिंग को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया। आशा पारेख चूंकि एक क्लासिकल डांसर भी हैं। इसलिए बाद में उन्होंने अपनी एक डांस अकेडमी खोली। अब आशा पारेख उसी में मशगूल रहती हैं। हालांकि वह इंस्टाग्राम पर एक्टिव हैं।