आदर्श ग्राम पंचायत योजना में तेलंगाना का दबदबा, 280 गांवों की सूची में टॉप पर

134


आदर्श ग्राम पंचायत योजना में तेलंगाना का दबदबा, 280 गांवों की सूची में टॉप पर

तेलंगान केंद्र सरकार की सांसद आदर्श ग्राम पंचायत योजना (SAGY) को लागू करने में पहले नंबर पर है। केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय की ओर से साल 2021 के लिए जारी नए रैंक के अनुसार तेलंगाना के सात गांव केंद्र सरकार की इस योजना को लागू करने वाले 10 ग्राम पंचायतों की सूची में शामिल हैं। वहीं, पूरी सूची में तेलंगाना के कुल 35 गांव शामिल हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2014 में इस योजना की शुरुआत की थी। 

इस योजना के अनुसार गांवो को आदर्श ग्राम पंचायत बनाया जाता है जिन्हें स्थानीय लोकसभा और राज्यसभा सदस्यों की ओर से अपनाया जाता है। मंत्रालय इन ग्राम पंचायतों को उनके समग्र विकास के आधार पर रैंक देता है, जिसमें ग्राम विकास योजना के कार्यान्वयन, बुनियादी सुविधाओं में सुधार, बेहतर आजीविका के अवसर दिए जाते हैं।

2021 में SAGY के कार्यान्वयन के लिए केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय की ओर से कुल 280 गांवों का चयन किया गया था, जिनमें से तेलंगाना के 35 गांव शामिल हैं। तेलंगाना के पंचायत राज मंत्री एराबेली दयाकर राव ने रविवार को मीडिया से बात करते हुए कहा कि करीमनगर जिले के सैदापुर ब्लॉक के वेन्नमपल्ली गांव को एसएजीवाई के कार्यान्वयन में नंबर 1 स्थान मिला है, इसके बाद निजामाबाद जिले के जुक्कल ब्लॉक के कोवलास गांव हैं। 

जिले के करीमनगर के बेजजानकी ब्लॉक के गन्नेरुवरम गांव चौथे, निजामाबाद के कंडाकुर्ती गांव रंजल ब्लॉक पांचवें और करीमनगर के येलारेड्डी पेट ब्लॉक के वीरनापल्ली गांव छठे, उसी जिले के वीनावंका ब्लॉक के रामकृष्णपुर नौवें और निजामाबाद के थाना कुर्द को 10वें स्थान पर रखा गया है। मंत्री ने कहा, ‘कुल मिलाकर, तेलंगाना के 35 गांव पूरे देश में 280 आदर्श ग्राम पंचायतों की सूची में शामिल हैं, जिसमें टॉप 20 में 11 गांव शामिल हैं।’ 

उन्होंने कहा कि आदर्श ग्राम पंचायतों के चयन के लिए जिन मापदंडों की पहचान की गई है उनमें स्वच्छता, स्ट्रीट लाइट का रखरखाव, गांवों के लिए रोजगार सृजन कार्यक्रम, स्वच्छ और हरा और सड़क और जल निकासी के बुनियादी ढांचे का निर्माण शामिल हैं। मंत्री ने कहा, ‘नर्सरी के विकास के लिए हरियाली में सुधार, स्कूलों और ग्राम पंचायत कार्यालयों जैसे सरकारी भवनों के सौंदर्यीकरण, डंपिंग यार्ड के संचालन, एवेन्यू पौधारोपण, कब्रिस्तान की स्थापना आदि के लिए रैंकिंग भी दी गई थी।
 



Source link