अमेठी का नाम सुनकर क्यों बदल गया राहुल का हाव-भाव, चुनाव लड़ने को लेकर दिया ऐसा जवाब

0
96

अमेठी का नाम सुनकर क्यों बदल गया राहुल का हाव-भाव, चुनाव लड़ने को लेकर दिया ऐसा जवाब

इंदौर: कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा इन दिनों मध्यप्रदेश के इंदौर में है। सोमवार को इंदौर में मीडिया में बात करते हुए राहुल गांधी ने खुलकर सवालों के जवाब दिए। राहुल गांधी ने यहां ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थकों को लेकर भी बड़ी बात कही। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों पर भरोसा नहीं करना चाहिए। राहुल गांधी 2024 का लोकसभा चुनाव कहां से लड़ेंगे इसे लेकर भी उन्होंने जवाब दिया। हालांकि उन्होंने ये नहीं बताया कि वो अमेठी से चुनाव लड़ेंगे या फिर नहीं। राहुल गांधी से अमेठी से चुनाव लड़ने का सवाल किया गया था जिसका जवाब उन्होंने खुलकर नहीं दिया। राहुल गांधी ने बेरोजगारी, महंगाई समेत कई मुद्दों पर केन्द्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मैं इस यात्रा में बहुत ज्यादा राजनीतिक मुद्दों को नहीं उठाना चाहता हूं।

राहुल गांधी से जब पूछा गया कि क्या आप अमेठी से फिर चुनाव लड़ेंगे? इस सवाल के जवाब में राहुल का हावभाव थोड़ा सा बदल गया। हालांकि राहुल ने कहा कि ये सब भारत जोड़ो यात्रा के मुख्य विचार से भटकाने वाली बातें हैं। आप लोग कल के लिए हेडलाइन खोज रहे हैं कि राहुल गांधी अमेठी से चुनाव लड़ेंगे या नहीं। उन्होंने कहा कि इस सवाल का जवाब आपको डेढ़ साल बाद पता चल जाएगा।

सिंधिया समर्थकों पर विश्वास नहीं
राहुल गांधी ने एक बार फिर से ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम लिए बिना अपने पुराने दोस्त पर निशाना साधा। राहुल गांधी से सवाल किया गया था कि क्या कांग्रेस छोड़कर गए विधायकों की वापसी फिर से हो सकती है इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा ये सवाल कांग्रेस अध्यक्ष और प्रदेश के कांग्रेस नेतृत्व से पूछना चाहिए। मैं अपनी व्यक्तिगत राय दे सकता हूं कि जो लोग खरीदे गए हैं, उन पर भरोसा नहीं करना चाहिए।

उज्जैन जाएंगे राहुल गांधी
राहुल गांधी की यात्रा इंदौर के बाद उज्जैन पहुंचेगी। जहां राहुल गांधी एक सभा को भी संबोधित करेंगे। राहुल गांधी की सभा को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ता भव्य तैयारियों में लगे हुए हैं। राहुल गांधी उज्जैन में बाबा महाकाल के दर्शन भी करने जाएंगे।

अमेठी से हार गए थे चुनाव
बता दें कि 2019 के लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी को अमेठी में हार का सामना करना पड़ा था। अमेठी में बीजेपी की उम्मीदवार स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी को बड़े अंतर से चुनाव हराया था। अमेठी और रायबरेली को गांधी परिवार का गढ़ माना जाता है।
इसे भी पढ़ें-
अब ज्योतिरादित्य का पलटवार: भारत जोड़ो यात्रा पर कसा तंज, राहुल ने सिंधिया समर्थकों को बताया था भ्रष्ट

उमध्यप्रदेश की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Madhya Pradesh News