अगर बीजेपी को नहीं तो किसी को वोट न दें… पूर्व मेयर के बयान पर अल्पसंख्यक आयोग का नोटिस, सरकार से मांगा जवाब

0
अगर बीजेपी को नहीं तो किसी को वोट न दें… पूर्व मेयर के बयान पर अल्पसंख्यक आयोग का नोटिस, सरकार से मांगा जवाब

अगर बीजेपी को नहीं तो किसी को वोट न दें… पूर्व मेयर के बयान पर अल्पसंख्यक आयोग का नोटिस, सरकार से मांगा जवाब

भोपाल: राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग ने भोपाल के पूर्व मेयर और प्रदेश बीजेपी उपाध्यक्ष आलोक शर्मा की मुस्लिम मतदाताओं को लेकर दिए विवादास्पद टिप्पणी पर मध्य प्रदेश सरकार को नोटिस जारी किया है। आयोग ने सरकार से कथित विवादास्पद टिप्पणी की जांच कराने की सिफारिश की है और अगले तीन सप्ताह के भीतर जवाब मांगा है।

क्‍या है पूरा मामला

दअरसल, पिछले हफ्ते शर्मा को जौरा विधानसभा क्षेत्र में बीजेपी कार्यकर्ताओं की एक सभा को संबोधित करते हुए अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों से यह कहते हुए सुना गया था कि यदि आप भाजपा को वोट नहीं देते हैं, तो किसी को भी वोट न करें। शर्मा के भाषण के इस अंश का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर देखा गया, जिससे चुनावी राज्य में राजनीतिक विवाद पैदा हो गया।

क्‍या बोले थे आलोक शर्मा

वीडियो में पूर्व महापौर आलोक शर्मा को यह कहते हुए सुना जा सकता है, मैं जावरा के अपने मुस्लिम भाइयों से अपील करना चाहता हूं कि अगर आप शर्मा को वोट नहीं देना चाहते हैं तो मत दीजिए, लेकिन मेरी आपसे गुजारिश है कि ऐसी स्थिति में आप बिल्कुल भी वोट करने न जाएं। आप इस तथ्य को दिल से स्वीकार करें कि आप जिस घर में रह रहे हैं, वह आपको प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत दिया गया है। याद रखें कि मुख्यमंत्री) शिवराज सिंह चौहान ने एमपी में एक हज हाउस भी बनवाया।”

कांग्रेस ने शर्मा के बयान पर जताई आपत्ति

मध्य प्रदेश कांग्रेस मीडिया सेल के प्रवक्ता और उपाध्यक्ष अब्बास हफीज ने शर्मा की टिप्पणी पर आपत्ति जताते हुए इसे अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को धमकाने का प्रयास बताया था। हाफ़िज़ ने इसके बाद आयोग को पत्र लिखकर दावा किया था कि शर्मा की टिप्पणी से स्पष्ट है कि बीजेपी अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों के बीच डर पैदा करने का प्रयास कर रही है। इसलिए, अल्पसंख्यक आयोग को उनके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए।

आयोग ने सरकार को जारी किया नोटिस

नोटिस में कहा गया है, राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग को अब्बास हफीज से एक शिकायत मिली है। अनुरोध है कि इस मामले की जांच करें और अगले 21 दिनों में रिपोर्ट जमा करें। बीजेपी ने भोपाल-उत्तर विधानसभा सीट से आलोक शर्मा को उम्मीदवार घोषित किया है, जहां 55 फीसदी आबादी अल्पसंख्यक समुदाय की है। साल 2018 में इस सीट से कांग्रेस के आरिफ अकील चुनाव जीते थे।

बता दें कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के करीबी माने जाने वाले आलोक शर्मा 2008 में इसी सीट से चुनाव लड़े थे। हालांकि, वह उस चुनाव में भी अकील से भारी मतों के अंतर से हार गए थे।

‘MP का काफिला क्यों लूटा इसका जवाब मिस्टर बंटाधार और कमलनाथ दें’, अमित शाह ने जारी किया BJP सरकार का रिपोर्ट कार्ड

उमध्यप्रदेश की और खबर देखने के लिए यहाँ क्लिक करे – Madhya Pradesh News